तेज स्पीड डीसीएम ट्राला से टकराया , 24 की हुई मौत, और 25 से अधिक हुए घायल

OmTimes News paper India - 100038औरैया (ऊँ टाइम्स) इस लाकडाउन में भी सड़क दुर्घटनाओं में कमी नही हो रहा है। लॉकडाउन में भी सरकारों के प्रवासी कामगार/श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाने के तमाम इंतजाम के बीच भी लोग पैदल या फिर खतरा मोल लेकर घरों की ओर रुख कर रहे हैं।
ऐसे ही लोगों से भरे ट्राला को आज औरैया में डीसीएम ने पीछे से टक्कर मार दी, जिससे 24 लोगों की मौत हो गई ,जबकि 25 लोग घायल हैं। राजस्थान से बिहार और झारखंड जा रहे प्रवासियों के ट्रक और खड़ी डीसीएम में टक्कर हो गयी। जिनको अस्पतालों में भेजा गया है। गंभीर रूप से घायल 20 मजदूरों को सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जबकि अन्य घायल जिला अस्पताल में भर्ती है। औरैया की सीएमओ डॉक्टर अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि 24 लोगों को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था। फिलहाल 35 लोग अस्पताल में भर्ती हैं और 15 लोग, जो गंभीर रूप से घायल थे, उन्हें सैफई पीजीआई में रेफर किया गया है।
मौके पर कमिश्नर,आईजी भी पहुंच गए है। प्रशानिक अधिकारी और कर्मचारियों के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर मौजूद है। पुलिस और स्वास्थ्य कर्मी राहत और बचाव कार्य में जुटे हैं। डीएम अभिषेक सिंह बताया कि घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायलों को सैफई मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है, जहां 15 घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।
औरैया में कोतवाली क्षेत्र के चिहुली में हाइवे पर शनिवार को नेशनल हाइवे पर एक ढाबे के बाहर खड़े कंटेनर में तेज रफ्तार डीसीएम ने टक्कर मार दी। टक्कर के बाद कंटेनर व डीसीएम दोनों खड्ड में जा गिरी। इसमें सवार 24 मजदूरों की मौत हो गई। आज सुबह चार बजे के लगभग मजदूरों को लेकर गोरखपुर जा रहा कंटेनर एक ढाबे के बाहर रुका। मजदूर दिल्ली व फरीदाबाद से कंटेनर में सवार हुए थे और गोरखपुर जा रहे थे। चालक चाय पीने चला और मजदूर सो रहे थे। इसी बीच तेज रफ्तार डीसीएम ने कंटेनर में टक्कर मार दी। जिससे कंटेनर खड्ड में जा गिरा और डीसीएम भी खड्ड में पलट गई। ढाबे के लोग भागे। चीख- पुकार मच गई। पुलिस मौके पर पहुंची और पांच बजे से राहत कार्य शुरू हो गया।
क्रेन से कंटेनर व डीसीएम को हटाकर दबे हुए लोगों को निकाला गया। जिला अस्पताल में 24 लोगों को मृत घोषित किया गया। 15 गंभीर घायलों को सैफई रेफर कर दिया गया। जबकि 20 मामूली घ्यालों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। डीएम अभिषेक सिंह ने बताया कि मजदूर दिल्ली से गोरखपुर जा रहे थे। मजदूर झारखंड देवरिया व पश्चिम बंगाल के है। कई मृतको के नंबर मिलने पर उनके स्वजन को सूचना दी गई है। मंडलायुक्त सुधीर एम बोबड़े ने बताया कि घटना की जांच के आदेश दिए है।

18 मृतकों के नाम, 16 के पते मिले हैं। 6 अभी अज्ञात हैं।

 उत्तर प्रदेश

1-अर्जुन चौहान पुत्र गोविंद चौहान निवासी,थाना मुंडेरा कमाल गंज।जनपद कुशीनगर।

2-मुकेश पुत्र श्रीधर विश्वकर्मा थाना ओराई संत रविदास नगर

3-नंद किशोर निवासी भटपुरा मऊ रानी झांसी।

4-राकेश पता अज्ञात

5-कीर्ति पता अज्ञात

बिहार 

1-केदारी यादव पुत्र मुन्ना यादव निवासी बारा चट्टी गया बिहार।

2-सतेंद्र पुत्र मोहन निवासी बजौरा जिला गया बिहार।

झारखंड 

1-राहुल सहीस पुत्र विभूति ग्राम गोलाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

2-कनि लाला पुत्र जीता महोत निवासी गोलाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

3-राजा गोश्वामी निवासी गोपाल पुर थाना चंदन क्वारी जिला बोकारो।

4-गोवर्धन पुत्र गोरांगो निवासी खीरा बेड़ा थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

5-उत्तम गोश्वामी पुत्र सुधीर गोश्वामी गोपाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

6-डॉक्टर महतो पुत्र गोपाल महतो ग्राम बाबू डीह थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

7-सोमनाथ गोश्वामि निवासी पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

पश्चिम बंगाल-

1-मिलन बधोकर निवासी दुम दुमि थाना जनपद पुरलिहा

2-अजीत महतो पुत्र अनिल महतो निवासी उपरावती थाना पुरलिहा।

3-चंदन राजभर पुत्र भिक्ष्कारा राजभर दुंदुमि पुरलिहा।

4-गडेश पुत्र तरु राजो दुमदुमि पुरलिहा।.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मौके पर पंहुंचे कमिश्नर सुधीर एम बोबड़े को फोन के घटना की जानकारी ली और शोक संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने औरैया में सड़क दुर्घटना में प्रवासी कामगारों/श्रमिकों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने पीड़ितों को हर संभव राहत प्रदान करने तथा सभी घायलों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मंडलायुक्त कानपुर तथा आईजी कानपुर को तत्काल मौके पर पहुँच कर राहत कार्य अपनी देख रेख में संपन्न कराने तथा दुर्घटना के कारणों की जांच कर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। घायलों के बेहतर इलाज के निर्देश दिये है।

पुर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर शोक संवेदना व्यक्त की है। इसके अलावा उन्होने लिखा है कि ऐसे हादसे मृत्यु नहीं हत्या है।
अलग-अलग राज्यों में गए मजदूर सड़क के रास्ते ही अपने घर लौट रहे हैं, लेकिन इसी बीच सड़क हादसों की खबरों भी सभी के दिलों को दहला रही हैं। मध्य प्रदेश के गुना के बाद प्रदेश के मुजफ्फरनगर और अब औरैया में भीषण सड़क हादसा सामने आया है।

लेखक: OM TIMES News Paper India

(Regd. & App. by- Govt. of India ) प्रधान सम्पादक रामदेव द्विवेदी 📲 9453706435 🇮🇳 ऊँ टाइम्स , सम्पादक अविनाश द्विवेदी

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s