अन्य राज्यों में फंसे लोगों की वापसी के लिए हेल्पलाइन नंबर हुआ जारी, MP से हुई शुरूआत

OmTimes e-news paper India
Publish Date – 30/4/2020 https://omtimes.in OmTimes. in - 30-4-2020 -4 लखनऊ (ऊँ टाइम्स)  जानलेवा कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण देश तथा प्रदेश में लंबे लॉकडाउन से उत्पन्न हो रही समस्या से निवारण अब योगी आदित्यनाथ सरकार की वरीयता है। राजस्थान के कोटा में फंसे कोचिंग के छात्र-छात्राओं को उनके घर तक पहुंचाने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ की वरीयता में देश के अन्य राज्यों में फंसे प्रदेश के मजदूर तथा गरीब लोग हैं।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज लोकभवन में टीम-11 के साथ बैठक में कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने के उपाय के साथ ही लोगों के उपचार तथा निदान की प्रगति की समीक्षा की। इसके बाद उन्होंने देश के विभिन्न राज्यों में फंसे उत्तर प्रदेश के कामगारों एवं श्रमिकों को सुरक्षित घरों तक पहुंचाने में सरकार के अभियान की प्रगति को परखा।
प्रदेश में हरियाणा से लगभग पूरे मजदूर तथा गरीब लोग प्रदेश में अपने-अपने जिलों में पहुंच गए हैं। आज यानी गुरुवार को मध्य प्रदेश में प्रदेश के कामगारों और श्रमिकों को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की प्रक्रिया शुरू की गई है। आज मध्य प्रदेश से प्रदेश के श्रमिक कामगार लाए जाएंगे। इसके बाद शुक्रवार को गुजरात से श्रमिक तथा कामगार को वापस लाया जाएगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज बैठक में सभी राज्यों में फंसे यूपी के कामगारों और श्रमिकों से भावुक अपील भी की। उन्होंने कहा कि अभी तक आप लोगों ने जिस धैर्य का परिचय दिया है उसे बनाए रखें। हम संबंधित राज्यों की सरकारों से संपर्क कर सभी को घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की विस्तृत कार्ययोजना तैयार कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा से चंद रोज पहले ही श्रमिक तथा कामगार आए हैं जबकि दिल्ली से 28 व 29 मार्च को चार लाख लोगों को सुरक्षित घरों तक पहुंचाया गया था। हरियाणा और राजस्थान से भी 50 हजार लोगों को घरों तक पहुंचाया गया है। आज भी हरियाणा से 13 हजार लोगों को भी लाया जा रहा है।
प्रयागराज में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे प्रदेश के विभिन्न जनपदों के 15 हजार छात्रों को सरकार सुरक्षित घरों तक पहुंचा चुकी है। राजस्थान के कोटा में फंसे 11,500 छात्र-छात्राओं को भी सरकार सुरक्षित घरों तक पहुंचा चुकी है। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग भी की थी।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने बैठक में छह लाख लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटर, शेल्टर होम और कम्युनिटी किचेन का राजस्व विभाग से ब्यौरा भी मांगा। कोरोना से हर तरह से निपटने के लिए मुख्यमंत्री योगी ने लेवल – 1, लेवल – 2 और लेवल -3 के कोविड अस्पतालों की क्षमता विस्तार करके 52 हजार बेड तैयार करने का भी ब्यौरा प्राप्त किया है।

दूसरे राज्यों से यूपी आने के लिए संपर्क करें

1. महाराष्ट्र से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करे- 700 7304 242 और 9454 400 177।

2. तेलंगाना व आंध्र प्रदेश से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 98 866 400 721 or 9454 40 2544 or 9454400135।

3. गोवा वह कर्नाटक से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9415 90 4444 or 9454 400 135।

4. पंजाब व चंडीगढ़ से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9455 3511 11और 9454 400 190।

5. पश्चिम बंगाल व अंडमान एवं निकोबार से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9639 981 600 aur 9454 400 537।

6. राजस्थान से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 945 44 10235 और 94544 05388।

7. हरियाणा से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 94544 18828 or 9454418828।

8. बिहार /झारखंड से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9621650067 और 9454400122।

9. गुजरात /दमन /दीव /दादरा एवं नगर हवेली से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 8881954573 और 9454400191।

10. उत्तराखंड /हिमाचल प्रदेश से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 8005194092 और 9454400155।

11. मध्य प्रदेश /छत्तीसगढ़ से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9454410331 और 9454400157।

12. दिल्ली /जम्मू एवं कश्मीर /लद्दाख से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 8920827174 और 7839854579 or 9454400114 or 7839855711 or 7839854569।

13. उड़ीसा से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9454400133 ।

14. तमिलनाडु /पांडिचेरी से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9415114075 और 9454400162।

15. अरुणाचल प्रदेश /असम /नागालैंड/ मेघालय /मणिपुर /त्रिपुरा /मिजोरम से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 9454441070 और 9454400148।

16. केरल /लक्ष्यदीप से यूपी आने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें 6386725278 or 9936619394 or 9412194347 और 9454400162।

दैनिक मजदूरों की सूची में गड़बड़ी पर नगरीय निकायों को नोटिस-

नगरीय निकायों ने लॉकडाउन के दौरान दैनिक श्रमिकों की जो सूची तैयार की गई है उसमें कई तरह की गड़बडिय़ां मिली हैं। निदेशालय ने इस पर 292 नगरीय निकायों को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है। साथ ही सूची दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन में दैनिक रोजगार कर जीवन यापन करने वालों को आर्थिक तंगी न हो इसके लिए एक हजार रुपये बैंक खाते में देने फैसला किया है। शहरों में इन्हें चिह्नित कर ब्योरा जुटाने का काम नगरीय निकायों को दिया गया है।
इन्हें गैर पंजीकृत श्रमिकों की भी जानकारी जुटानी थी। नगरीय निकायों ने जो सूची तैयार की उसमें कई तरह की गड़बडिय़ां सामने आई हैं। स्थानीय निकाय निदेशालय ने जब इस सूची का परीक्षण किया तो काफी खामियां मिली हैं। इसमें कई ऐसे लोगों के नाम दर्ज थे, जो वास्तव में मजदूर ही नहीं थे। साथ ही कई लोगों के नाम एक से ज्यादा बार दर्ज कर दिए गए थे। कुछ का खाता संख्या गलत था तो कुछ की जानकारियों में अन्य प्रकार की कमियां मिली हैं। उप निदेशक रश्मि सिंह ने इस तरह के 292 नगरीय निकायों को चिह्नित कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा है।

लेखक: OM TIMES News Paper India

(Regd. & App. by- Govt. of India ) प्रधान सम्पादक रामदेव द्विवेदी 📲 9453706435 🇮🇳 ऊँ टाइम्स , सम्पादक अविनाश द्विवेदी

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s