केरोना वायरस के वजह से चीन ने वुहान समेत पांच शहरों में बंद कर दिया आवाजाही

OM TIMES e-news paper India
Publish Date – 24/1/2020. https://omtimes.in IMG_20200124_081827 बीजिंग / नई दिल्ली (ऊँ टाइम्स) चीन ने रहस्यमय कोरोना वायरस के प्रसार का केंद्र माने जा रहे एक करोड़ से ज्यादा आबादी वाले वुहान समेत पांच शहरों में आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई है। इनमें 75 लाख की आबादी वाले हुआंगगांग, इझोऊ, झिजियांग और कियानजियांग शहर शामिल हैं। गुरुवार से इन पांचों शहरों में सभी तरह के सार्वजनिक परिवहन पर रोक लगा दी गई। सांस लेने में परेशानी का कारण बनने वाला यह वायरस चीन के कई शहरों को अपनी चपेट में लेने के बाद अमेरिका तक पहुंच गया है। चीन में इस वायरस के प्रकोप से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग 631 लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा है कि चीन के नए साल (लूनर न्यू ईयर) की छुट्टियों के दौरान लाखों चीनी नागरिकों की देश-विदेश में आवाजाही से वायरस का प्रसार बढ़ सकता है। इसको देखते हुए बीजिंग के प्रमुख मंदिरों में नए साल पर आयोजित होने वाले समारोह को भी रद कर दिया गया है। चीनी नया साल शनिवार से शुरू होगा।

इस बीमारी से निपटने के लिए 1000 करोड़ रुपया किया गया जारी-  चीन के वित्त मंत्रालय ने हुबेई की प्रांतीय सरकार को इस बीमारी से निपटने के लिए 14.5 करोड़ डॉलर (लगभग 1000 करोड़ रुपये) जारी किया है। मध्य चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान है। बुहान शहर के प्रशासन ने बताया कि शहर में सभी परिवहन नेटवर्क और बाहर जाने वाली उड़ानों को गुरुवार सुबह दस बजे से निलंबित कर दिया गया। प्रशासन ने शहरवासियों से आग्रह किया है कि वे वुहान से बाहर ना जाएं। इस एलान के कुछ घंटे बाद ही वुहान से 70 किलोमीटर दूर हुआंगगांग, इझोऊ, झिजियांग और कियानजियांग शहरों में भी इसी तरह की बंदिशें लगा दी गई। वुहान में प्रमुख हाईवे, रेलवे स्टेशन, बस अड्डे और एयरपोर्ट पर सुरक्षाकर्मी गश्त कर रहे हैं। सोशल मीडिया में डाले गए वीडियो में वुहान में खाने-पीने और जरूरी सामान जमा करने के लिए सुपर मार्केट के साथ ही गैस और पेट्रोल स्टेशनों पर लोगों की लंबी कतारें देखी गई।

वुहान शहर में फंसे हैं कई  भारतीय छात्र-  वुहान शहर को बंद किए जाने से वहां फंसे भारतीय छात्रों को लेकर चिंता बढ़ गई है। इस शहर में लगभग सात सौ भारतीय छात्र रहते हैं। इनमें से ज्यादातर मेडिकल के छात्र हैं। हालांकि, छुट्टी के चलते इनमें से ज्यादातर छात्र अपने घरों को गए हैं। भारतीय दूतावास ने गुरुवार को इन छात्रों की मदद के लिए हेल्पलाइन शुरू की है। चीनी अधिकारियों से भी इन छात्रों तक खाने-पीने के सामान पहुंचाने का अनुरोध किया है।

वुहान में चार हजार से ज्यादा लोग हैं इससे पीड़ित –  चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बुधवार तक कोरोना वायरस संक्रमण के 631 मामलों की पुष्टि की, लेकिन इंपीरियल कॉलेज लंदन ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अकेले वुहान में वायरस संक्रमण के करीब चार हजार मामले होने का अनुमान है।

अब ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी पर विचार कर रहा डब्ल्यूएचओ-  विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित करने पर जल्द निर्णय लिया जाएगा। इस तरह की घोषणा होने पर कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रयास तेज कर दिए जाएंगे।

क्या है कोरोना वायरस –  वुहान में सबसे पहले सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स) रोगाणु जैसे रहस्यमय कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। इस वायरस का अभी कोई ज्ञात उपचार नहीं है। सांस संबंधी दूसरी बीमारियों की तरह ही बुखार, खांसी और सांस लेने में दिक्कत इस संक्रमण के लक्षण हैं। यह न्यूमोनिया का कारण भी बन सकता है।

भारत ही नहीं बल्कि पूरी  दुनिया में एयरपोर्टों पर हो रही है जांच –  कोरोना वायरस की रोकथाम के प्रयास में भारत समेत लगभग पूरी दुनिया के एयरपोर्ट पर चीन से आने वाले यात्रियों की जांच की जा रही है। ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन समेत कई देशों ने अपने नागरिकों को वुहान नहीं जाने की सलाह दी है।

अमेरिका में भी 16 से अधिक लोगों पर हो रही है  निगरानी –  अमेरिका के वाशिंगटन में एक व्यक्ति में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है। इस व्यक्ति के संपर्क में आने वाले 16 लोगों को निगरानी में रखा गया है जबकि थाइलैंड में चार, जापान, दक्षिण कोरिया और ताइवान में इस वायरस के एक-एक मामले सामने आ चुके हैं।

सर्पों से भी इंसानों में वायरस पहुंचने का है अंदेशा-   चीन के पेकिंग यूनिवर्सिटी हेल्थ साइंस सेंटर के शोधकर्ताओं के अनुसार, नए प्रकार के कोरोना वायरस के सांप से इंसानों में पहुंचने का अंदेशा है जबकि चीनी अकादमी ऑफ साइंसेज की ओर से कराए गए एक दूसरे अध्ययन का दावा है कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति चमगादड़ या सांप से हो सकती है।

लेखक: OM TIMES News Paper India

(Regd. & App. by- Govt. of India ) प्रधान सम्पादक रामदेव द्विवेदी 📲 9453706435 🇮🇳 ऊँ टाइम्स , सम्पादक अविनाश द्विवेदी

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s