CM योगी आदित्यनाथ ने कहा- हिंसक प्रदर्शन के दोषी लोगों की संपत्ति जब्त करेंगे

OM TIMES e-news paper India
Publish Date – 19/12/2019. https://omtimes.in 2019.6

लखनऊ (ऊँ टाइम्स) नागरिकता संशोधन कानून 2019 के विरोध में लखनऊ सहित यूपी के अन्य कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद नाराज हैं। नागरिकता संशोधन को लेकर कई दिनों से चल रहे बवाल ने गुरुवार को लखनऊ में एक बार फिर तूल पकड़ लिया। पूरा लखनऊ अशांत होकर आग की लपटों में घिर गया। जिलों में सरकारी संपत्ति का बड़ा नुकसान होने पर उन्होंने प्रदेश के शीर्ष अधिकारियों को तलब किया है। इसके साथ ही कहा कि सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले चिन्हित हो रहे हैं, उनकी सारी संपत्ति जब्त करने के बाद हम लोग नुकसान की भरपाई करेंगे।

लोकभवन में अधिकारियों के साथ बैठक से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा लोकतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं है। लखनऊ और संभल में दंगा करते लोग हमको सीसीटीवी में दिखे हैं। कई जगह प्रदर्शन के दौरान पथराव और आगजनी की घटनाएं हुईं। इन सभी ने सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया है। बेहद उन्मादी लोगों की हम लोग संपत्ति जब्त करने के साथ नुकसान की भरपाई करेंगे। लखनऊ और सम्भल में उपद्रव के बाद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसमें शामिल सभी लोगों पर कानूनी कार्रवाई करने के साथ ही साथ इनकी संपत्ति जब्त करके नुकसान का जुर्माना भी लिया जायेगा। योगी आदित्यनाथ ने कहा लोकतंत्र में सभी को प्रदर्शन का अधिकार है लेकिन हिंसा की कोई जगह नहीं। हिंसा में लिप्त प्रत्येक व्यक्ति को चिन्हित करके उसकी प्रॉपर्टी जब्त करेंगे, फिर नीलामी कर पब्लिक प्रोपर्टी के नुकसान की भरपाई करेंगे।

मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस प्रकरण पर मैंने बैठक बुलाई है। मेरा मानना है कि आप विरोध के नाम पर हिंसा में शामिल नहीं हो सकते। हम ऐसे तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। हम लोग दोषी पाए गए लोगों की संपत्ति जब्त करेंगे और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान की भरपाई करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोक भवन में मुख्य सचिव आरके तिवारी के साथ डीजीपी ओपी सिंह तथा अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को तलब किया है। उन्होंने लखनऊ के बिगड़े हालातों को देखते हुए तुरंत बैठक बुलाई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सारे घटनाक्रम से बेहद नाराज हैं।

एडीजी और आईजी भी हुए घायल –  लखनऊ में एडीजी जोन एसएन साबत को पत्थर लगा। इनके साथ ही उपद्रवियों के पथराव में आईजी एसके भगत भी पथराव में घायल हो गए हैं। सीओ हजरतगंज अभय मिश्रा को भी आंख में चोट लगी है। परिवर्तन चौक में पथराव में कई पुलिस कर्मी घायल हैं। यहां पर प्रदर्शनकारियों ने ड्यूटी पर लगे पुलिसकर्मियों पर पथराव किया। लखनऊ में खदरा से लेकर हजरतगंज तक दुकानें बंद हैं। सरकारी व प्राइवेट दफ्तर खाली कराए गए सभी लोगों को घर वापस भेजा गया।

लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने कहा कि पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर लिया है। यहां पर गलियों से जो भीड़ आ रही थी, उन्हें वापस गलियों में खदेड़ दिया है। साथ ही अराजक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। लखनऊ में प्रदर्शन के दौरान टीवी चैनलों की ओबी वैन फूंकी गई।
हालांकि हिंसा की आशंका को देखते हुए डीजीपी ओपी सिंह ने लोगों से आज घर से न निकलने की अपील की थी लेकिन लोग तीन तीन के गुट में निकलकर इकट्ठा होने लगे और इस तरह से हजारों प्रदर्शनकारियों सड़कों पर आ गए और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया।एडीजी एलओ ने बताया कि लखनऊ में बवाल के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। उधर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राजधानी लखनऊ में हुई हिंसा पर बैठक बुलाई है। गृह मंत्री अमित शाह इसको लेकर बेहद गंभीर हैं।

लेखक: OM TIMES News Paper India

(Regd. & App. by- Govt. of India ) प्रधान सम्पादक रामदेव द्विवेदी 📲 9453706435 🇮🇳 ऊँ टाइम्स , सम्पादक अविनाश द्विवेदी

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s